Showing posts from January, 2021Show all
इतिहास झारखण्ड का : दामिन- ई- कोह और झारखण्ड का उदय
जाने झारखण्ड राज्य के मुख्यमंत्री विद्यालक्ष्मी योजना
ब्रिटिश शासन, उसके बाद संतालों की मांझी- परगना व्यवस्था
जाने निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा ( आर. टी. ई.)  शिक्षा का अधिकार
झारखण्ड राज्य के शिक्षा योजना: मुख्यमंत्री मेधा छात्रवृत्ति योजना।
खोजबीन: जाने संतालों के संताल परगना का इतिहास
झारखण्ड में द्वितीय शासकीय राजभाषा संताली ही क्यों?
जमीन,भाषा व संस्कृति पर निर्भर है, आदिवासियों की अस्मिता।
संताली लोकजीवन में चित्रकला का महत्व व आवश्यकता
प्रकृति, आदिवासी और सरना धर्म का निहितार्थ
देश में झारखण्ड  खनिज संपदा का धनी राज्य है
खोजबीन: संताली भाषा लेखन का उद्गम स्थल बेनागाड़िया मिशन
जनजातियों के लिए संविधान में  शिक्षा एवं सांस्कृतिक सुरक्षा संबंधी विशेष प्रावधान।
संविधान में आदिवासी के लिए सामाजिक सुरक्षा संबंधी विशेष प्रावधान
  सुर्खियों में :  क्या 2021के जनगणना में आदिवासियों के लिए अलग सरना धर्म काॅलम होगा ?
आदिवासी पावरा समाज : सामुहिक, लोकशाही जीवन मुल्यों का त्यौहार है इंदल।।
जल, जगंल व जमीन के पहरेदार है, देश के आदिवासी।
भारतीय संविधान में अनुसूचित जनजातियों के लिए सुरक्षाओं की प्रावधान।
झारखण्ड अलग राज्य के शिल्पकार थे जयपाल सिंह मुंडा।